स्काउटिंग में ट्रूप या कम्पनी मीटिंग

स्काउटिंग में ट्रूप या कम्पनी मीटिंग

यह अल्पावधि का कार्यक्रम है जिसमें औपचारिक रूप से स्काउटर/ गाइडर हफ्ते में एक-दो बार अपने दल/ कम्पनी को एक नियोजित ढंग से प्रशिक्षण देते हैं। कम्पनी गाइडिंग उसकी यूनिफार्म, नये आकर्षक कार्यक्रम, प्रगतिशील प्रशिक्षण, नेतृत्व का अवसर और जीवन्तता के कारण आकर्षित होते हैं।

ट्रूप मीटिंग से स्काउटिंग/गाइडिंग के उद्देश्यों को पूरा किया जा सकता है। इसके समयबद्ध कार्यक्रम से समय की बचत होती है। प्रशिक्षण में निरंतरता रहती है। स्काउट/गाइड को तैयारी का पर्याप्त अवसर मिलता है। यह काम करने का सुअवसर प्रदान करता है। कार्य और अनुसरण की उत्तम योजना है। आवश्यकतानुसार कार्य-योजना में परिवर्तन किया जा सकता है। साहसिक कार्य और प्रशंसा दायक संरचना है।

ग्रुप मीटिंग की योजना बनाते समय यह ध्यान में रखना आवश्यक है कि-

  • * निष्क्रियता से गतिशीलता भली।
  • * देखने से भला प्रतिभाग करना।
  • * बन्द कक्षों (स्थलों) से अच्छा खुले में कार्यक्रम।
  • * सम्भाविता से भली असम्भाविता जिसमें अधिक आनन्द आता है।
  • * पहले से ज्ञात कार्यक्रम में आनन्द नहीं आता जो आश्चर्य चकित कर देने वाले कार्यक्रम में आता है।
  • ** स्पष्ट कार्यक्रम से अधिक रहस्यपूर्ण कार्यक्रम अधिक प्रभावकारी होता है।
  • * प्रतिस्थापित के स्थान पर वास्तविक वस्तु अच्छी है।
  • टुप कम्पनी हफ्ते में कम से कम एक दिन यूनिफार्म में हो।
  • एक मीटिंग स्काउटर/गाइडर के नेतृत्व में और दूसरी दल नायक कम्पनी लीडर के नेतृत्व में हो।
  • यह मीटिंग हफ्ते में निश्चित (उसी) दिन हो और ध्वज शिष्टाचार से सम्पन्न हो।
  • * स्काउट गाइड का क्लब रूम सामान रखने के लिये हो। किंतु कार्यक्रम खुले मैदान में हों।
  • मैदान के एक ओर (लगभग मध्य में) ध्वज क्षेत्र हो और चार कोनों पर टोली कार्नर हो।
  • * ध्वज शिष्टाचार से कार्यक्रम प्रारंभ और अंत हो।
  • * कार्यक्रम का प्रारंभ खेल से हो।
  • * स्काउटर/गाइडर द्वारा कोई ज्ञानवर्धक यार्न (छोटी कहानी) कही जाय तो अच्छा प्रभाव पड़ेगा।
  • * टुप मीटिंग अनेक प्रकार के उद्देश्यों की पूर्ति हेतु आयोजित की जाती है। जैसे-कक्षों में, खुले में, दक्षता पदकों के प्रशिक्षण के लिये, प्रकृति भ्रमण, पायनियरिंग, प्राथमिक चिकित्सा, मानचित्र पठन एवं मानचित्र बनाना आदि।
  • * यहाँ पर प्रवेश स्काउट/गाइड के लिये टुप मीटिंग की कार्य योजना बनाई गयी है।

मॉडल ट्रुप या कम्पनी मीटिंग कार्यक्रम

स्थान ………समय …… दिनांक …… अवधि ……

क्रमांकगतिविधिअवधि
1निरीक्षण (पैट्रोल कार्नर पर)10
2ध्वज शिष्टाचार05
3स्फूर्ति दायक खेल (स्काउटर/गाइडर द्वारा)10
4सहायक स्काउटर/गाइडर द्वारा कार्नर पर अभ्यास (टोली नायकों को स्काउटर/गाइडर द्वारा नई जानकारी)10
5टोली नायकों द्वारा उक्त नया प्रशिक्षण (कार्नर पर)15
6प्राप्त उक्त प्रशिक्षण की प्रतियोगिता (स्काउटर/गाइडर द्वारा)10
7टोली बार खेल (पैट्रोल कार्नर पर)10
8देशभक्ति गीत /प्रार्थना /झण्डागीत (स्काउटर/गाइडर द्वारा)05
9स्काउटर/गाइडर द्वारा यार्न कहानी10
10निरीक्षण, सूचनाएं, ध्वज अवतरण, राष्ट्रगान05
90 मिनट
स्काउटिंग में ट्रूप या कम्पनी मीटिंग
troop meeting
troop meeting
  • प्रवेश स्काउट/गाइड को ऐसी कम से कम चार मीटिंग में प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा। जिसमें प्रवेश का संपूर्ण कोर्स पूरा हो सके।

Educationdepart.com एक ऐसा वेब पोर्टल है जिसमें शिक्षा से सम्बंधित दस्तावेजीकरण, महत्वपूर्ण आदेशों, निर्देशों, उपलब्धियों या इससे जुड़े हुए हर प्रकार की गतिविधियों का साझा तो किया जाता है साथ ही, शालेय संगठन और शालेय पाठ्यक्रम पर भी पोस्ट बनाये जाते हैं ताकि शिक्षा विभाग के क्रियाकलापों से आपका साक्षात्कार हो सके. आप हमसे जुड़कर अपनी बात रख सकें या अपडेट रहें, इस हेतु नीचे के सोशल मीडिया से लिंक/बटन दबाएँ .

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply