मोबाइल बैंकिंग सुरक्षा हेतु ध्यान देने योग्य बातें:-

0

मोबाइल बैंकिंग

जब हम घर से दूर हो, और हमें अपने बैंक खाते की जानकारी या किसी परिजन दोस्त को पैसे भेजने हों या किसी तरह का बिल जमा करना हो, तो कभी भी चौबीसों घंटे विभिन्न बैंको के द्वारा मोबाइल बैंकिंग की सेवा शुरू की गई है। यह सेवा पूरी तरह सरल सुक्षित तथा सुविधापूर्ण है। जिसका उपयोग कभी भी कहीं भी किया जा सकता है।

मोबाइल बैंकिग की सेवा का लाभ दो तरीकों से प्राप्त किया जा सकता है।
1. मोबाइल बैंकिंग सेवा अप्लीकेशन वैप द्वारा।
2. मोबाइल बैंकिग सेवा एस. एम. एस. (SMS) द्वारा
यह सेवा वैप (WAP) के जरिये सभी मोबाइल में GPRS के साथ उपलब्ध है। साथ ही मोबाइल बैकिंग का अप्लीकेशन जावा, ब्लैकबेरी, एंड्रॉयड, आई-फोनस और विंडो मोबाइल फोन के लिए उपलब्ध है। मोबाइल बैकिंग अप्लीकेशन और वैप में निम्नलिखित सेवाएं उपलब्ध है।
1.राशि (धन) हस्तांतरण
2. तुरंत भुगतान सेवा
3. पूछताछ सेवाएँ
4. डिमेट एकाउंट सेवा
5. अनुरोध सेवाएँ
6. बिल भुगतान
7. मोबाइल, डिस टी. वी. अथवा मोवीकैश इत्यादि रिचार्ज सेवा
8. अन्य भुगतान (व्यापार भुगतान, जीवन बीमा भुगतान)

Things to be noted for Mobile Banking Security

मोबाइल बैकिंग सेवा एस. एम. एस. पर


यह सेवा सभी फोन पर उपलब्ध होती है। सम्बन्धित बैंक को एस. एम. एस. भेजकर निम्नजानकारियाँ प्राप्त कर सकते है।
1. पूछताछ सेवा
2. रिचार्ज सेवा
3. एम. पिन में बदलाव

4. डी. टी. एच. रिचार्ज
सभी बैकों में अलग-अलग सुविधाएँ उपलब्ध होती है तथा इन सुविधाओं इस्तेमाल करने से पहले बैंकों के द्वारा जारी नियमवाली को अच्छी तरह से पढ़ लेना चाहिए।


मोबाइल बैंकिंग सेवा यू. एस. एस. डी. पर

यह सेवा सी. डी. एम. ए. फोन को छोड़ कर बाकी सभी फोन में उपलब्ध होती है। इसमें अप्लीकेशन को डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है। स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया के अनुसार ‘595 को डायल कर यह सेवा ले सकते है । यू. एस. एस. डी.पर निम्न सेवाएं उपलब्ध है।
1. पूछताछ सेवा
2. मोबाइल रिचार्ज
3. राशि हस्तांतरण


सुरक्षा हेतु ध्यान देने योग्य बातें:-

1. बैंक के द्वारा निर्गत पिन को सुरक्षित रखें।
2. अधिकृत मोबाइल बैंकिंग साफ्टवेयर डाउनलोड करें।
3. मोबाइल को पासवर्ड के द्वारा बन्द करके रखें। जब मोबाइल इस्तेमाल में न हो।
4. मोबाइल बैंकिंग अप्लीकेशन को इस्तेमाल के बाद लॉग आउट कर देना चाहिए।

5. अगर मोबाइल सिम खो जाये तो मोबाइल बैंकिंग सर्विस पंजीयन को तुरंत रद्द करा दें।
6. मोबाइल बैंकिंग इस्तेमाल करने से पूर्व और अधिक जानकारी हेतु नजदीकी संबंधित बैंक शाखा से सम्पर्क अवश्य करें।

इन्टरनेट बैंकिंग

इन्टरनेट बैंकिंग आज के आधुनिक युग में बैंक के सारे काम को घर या ऑफिस में करने का सबसे आसान एवं सरल तरीका है। इससे हम लाइन में खड़ा होने तथा देरी से बच सकते है। सरल एवं सुरक्षित इन्टरनेट बैंकिंग का बेजोड़ ऑनलाइन बैकिंग है। इन्टरनेट बैंकिंग के जरिये हम बैंक खाते से संबंधित सभी आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं।


इन्टरनेट बैंकिंग


1. व्यक्तिगत बैंकिंग (Personal Banking)

2. कॉरपोरेट बैंकिंग (Corporate Banking)


व्यक्तिगत बैंकिग:- हमारी इन्टरनेट बैंकिंग व्यक्तिगत बंकिंग की सारी सुविधा उपलब्ध कराती है।
सुविधाः
1. हमारे आई. एन. वी. सुविधा में रुचि।
2. ऑन लाइन जीवन बीमा प्राप्त करना।
3. आवश्यक बिल जमा होना (मूल्यांकित सेवा)
4.कर भुगतान
5. स्टेट बैंक वरचूवल कार्ड
6. असबा (ASBA) सुविधा
7. राशि हस्तांतरण
8. खाता विवरण
9.निवेश सेवाएँ
10. अनुरोध सेवाएँ

कॉरपोरेट बैंकिंग:- कोरपोरेट बैकिंग हमें प्रशासनिक तथा अव्यक्तिगत ऑन लाइन बैंक खाते की सुविधा उपलब्ध कराती है।
सुविधा:-
1. ऑनलाइन शुल्क जमा
2. प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, सरकारी कर एवं ई. पी. एफ. भुगतान ऑनलाइन
3. अनुरोध सेवाएँ
4. मूल्यांकित सेवाएँ
5. निवेश संबंधी सेवाएँ
6. खाता विवरण
7. प्रबन्धन की जानकारी
8. राशि हस्तांतरण


आप बैंक में भरा हुआ आवेदन पत्र जमा करा कर इन्टरनेट बैंकिंग की सुविधा का लाभ उठा सकते है। बैंक अपने ग्राहक को अपना खाता लॉग ऑन करने हेतु पासवर्ड पिनकोड गुप्त अंक उपलब्ध कराती है। ग्राहक को अपने पासवर्ड पिन कोड गुप्त अंक दूसरों को नहीं बताने चाहिए। ग्राहक को चाहिए कि अपनी बैंक की वेबसाइट विजिट करें एवं यूजर आई. डी. प्राप्त कर इन्टरनेट बैंकिंग सुविधा को सक्रिय करावें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.