स्काउट के द्वितीय सोपान में पायनियरिंग (Pioneering in Scout’s second rung)


बी. पी. के अनुसार पायनियर्स वे लोग होते हैं जो औरों से आगे जाकर पीछे आने वालों के लिये जंगल या कहीं भी रास्ता ढूंढते व बनाते हैं।

(Pioneers are men who go ahead to open up a way in jungle or elsewhere for those coming after them).

स्काउट के द्वितीय सोपान में पॉयनियरिंग के अंतर्गत निम्न बिन्दुओं का अध्ययन की जाती है:-

  • गाँठ-विद्या,
  • पुल निर्माण,
  • मचान व झोपड़ी बनाना,
  • पेड़ गिराना,
  • अनुमान लगाना तथा
  • तत्सम्बन्धी उपकरणों की जानकारी .

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply